वो तेरी मेरी पहली बारिश थी

तु मुझमें खो कर मदहोश हुआ, मैं तुझपे मर जग जीत ली थी, जो तुझको चाहा सिद्दत से, हर ख़्वाब में तुझ संग ज़ी ली थी, हर अश्क़ में मेरे शामिल तू, इश्क़ को मेरे हासिल था, मासूम महोबत की चाह तो, जैसे ￰मोजज़ा की साज़िश थी, वो तेरी मेरी पहली बारिश थी, वो तेरी... Continue Reading →

Dear Future Husband

Dear future husbandकुछ बात करनी थी आपसेदिल के हालत कुछ ख़ास नहीं है और तुम्हारे भी निशा आस पास नहीं हैपहले ये बताओ कहा हो कैसे हो अल्लाह रहम-ए-करम बस सब अच्छे होंतुमसे दूर रहने पे बड़ी तड़पती हु मैं तुम्हारे ख्वाबो में यूँ ही गुजरती हु मैंपर आजकल तो हद्दे पार कर दी हैं... Continue Reading →

अल्लाह

तेरी खिदमत में ओह !! अल्लाह न जाने कितने आये होंगे भर दी झोली सबकी न खाली लौटाए होंगे तो बता मोन क्यों है तू मेरी जुदाई पे क्या मेरी इबादत तेरे तक न आई होगी हो सकता नासमज हु की होगी गलती हज़ारों मेरी खिदमत तुझे नहीं पसंद आई होगी तू जानता है मानता... Continue Reading →

दिल और  दिमाक

दिल और दिमाक में अक्षर बहस चलती है मै हु तेरा इससे अच्छा ,जुस्तजू बदलती है दिल कहता तू मेरी सुन ले प्यार तुजे सिखाऊंगा दिमाक कहता चल संग मेरे दुनिया पे राज करवाऊंगा दिल कहता तू सब कुछ कह दे तुझको चैन दिलाऊंगा दिमाक कहता कुछ नहीं रखा सबसे दूर ले जाउगा दिल कहता... Continue Reading →

WordPress.com.

Up ↑